सफलता के सूत्र?

आप सफल क्यों नहीं हुए, उसके कारणों का पता करें, गहराई से सोचें, और उस कारण को दूर करें। 
Peace and happiness are in mind, not in the things
 सबसे प्रेम करो, सेवा करो और सब कुछ भगवान पर छोड़ दो. 

जीवन में क्या करना हैं उसकी थोड़ा ज्ञान होना चाहिए लेकिन उसको करने के लिए ज्यादा सोचना नहीं चाहिए बस शुरू कर देना चाहिए। एक - दो बार गलती हो सकती हैं लेकिन अगर अपने गलती ठीक कर दी तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता! 

अगर आपको कही पहुँचना है तो या तो ख़ुद ढूढ़ कर पहुंच जाओ, नहीं तो उससे रास्ता पूछो जो वहाँ जाकर आया है. 

कहो मत, बस थोड़ा ज्ञान लेकर कर दो. 

जो समय के पाबंध नहीं होते हैं उनकी जिंदगी में बहुत सारी समस्याएँ होती हैं।  

किसी भी काम की पहले से तैयारी करने से, अपना काम पूरी ईमानदारी और जिम्मेदारी से करने से, बड़े से बड़े काम अच्छी तरह से हो जाते हैं. 

जब आप गुस्सा होते है तो किसी से कुछ भी न बोलें। 

जो भी आपकी समस्या हैं उसे ध्यान से देखें, समस्या क्यों है, समझने की कोशिश करें, उसका हल क्या हो सकता है - उसे सोचे। शांति से तब तक सोचे जब तक उसका समाधान न मिल जाए. 

चिंता और चिता में सिर्फ एक बिंदी का फर्क हैं. चिंता मत करों, उसका समाधान ढूँढो।  

1 comment:

monika singh said...

India Tour Packages Comment Thanks for sharing good information !